Breaking News
झबरेड़ा:- जिला टेनिस बॉल क्रिकेट में एंबीशन पब्लिक स्कूल के 8 छात्रों का चयनझबरेड़ा:- तीन दिवसीय जिला हरिद्वार में आयोजित प्रशिक्षण वर्ग का हुआ समापन, हरिद्वार सांसद डॉक्टर रमेश पोखरियाल निशंक ने कार्यकर्ताओं को किया संबोधितझबरेड़ा:- कृषि उत्पादन मंडी समिति मंगलौर अध्यक्ष व सचिव ने दुर्घटना सहायता राशि का चेक पीड़ित किसान को देकर दी वित्तीय सहायताझबरेड़ा:- केरल निवासी व्यक्ति के साथ जमीन दिलाने को लेकर धोखाधड़ी कर उड़ाए लाखों रुपए,पीड़ित की रकम न देने पर 3 के खिलाफ कराया मुकदमा दर्जझबरेड़ा:- 13 लोगों ने रात के समय घर में सोते हुए लोगों पर किया हमला,पीड़ित ने थाने में तहरीर देकर कराया मुकदमा दर्ज
झबरेड़ा:- बकाया गन्ना भुगतान को लेकर हरियाणा से आए किसानों ने मिल प्रबंधन से की वार्ता,मिल मालकिन की मौत की खबर सुनते ही लौटे वापस – Dainik News – Latest News in Hindi | Breaking News

झबरेड़ा:- बकाया गन्ना भुगतान को लेकर हरियाणा से आए किसानों ने मिल प्रबंधन से की वार्ता,मिल मालकिन की मौत की खबर सुनते ही लौटे वापस

झबरेड़ा। इकबालपुर शुगर मिल में हरियाणा के दर्जनों किसान अपने बकाया गन्ना भुगतान को लेकर इकबालपुर शुगर मिल प्रबंधन से मिले तथा बकाया गन्ना भुगतान देने की मांग की शुगर मिल प्रबंधन द्वारा शुगर मिल मालकिन की मृत्यु का पता लगने पर सभी किसान वापस हरियाणा चले गए।

इकबालपुर शुगर मिल पर हरियाणा के दर्जनों किसानों का 2017-182018-19 का लगभग 40 करोड़ गन्ना बकाया भुगतान चला आ रहा है हरियाणा के किसानों का कहना है कि वह अपने बकाया गन्ना भुगतान को लेकर मिल प्रबंधन से कई बार वार्ता कर चुके हैं लेकिन हर बार आश्वासन के सिवा कुछ भी नहीं मिल पा रहा है हर बार गन्ना भुगतान शीघ्र कर दिया जाएगा का ही आश्वासन दिया जाता है इस बार भी लगभग दो दर्जन हरियाणा के किसान इकबालपुर मिल में आकर शुगर मिल प्रबंधन से अपने गन्ना बकाया को लेकर वार्ता की गई लेकिन शुगर मिल प्रबंधन द्वारा उन्हें बताया गया कि शुगर मिल मालकिन की बीमारी के चलते मौत हो गई है शुगर मिल मालकिन अंजली बिरला सहानी की मृत्यु का पता लगते ही वह वापस जा रहे हैं इस समय उनका खेतों में गेहूं की फसल पक गई है गेहूं की कटाई करने के बाद ही वे लोग इकबालपुर शुगर मिल में अपना गन्ना भुगतान लेने के लिए आएंगे किसानों का यह भी कहना था की वह इकबालपुर शुगर मिल परिसर में तब तक धरना देकर बैठे रहेंगे जब तक उनका गन्ना भुगतान नहीं हो जाएगा किसानों में योगेश अजीत जयदीप सुखपाल जयवीर व सरवन आदि शामिल थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.